कंगारू की पूरी जानकारी Kangaroo Information In Hindi

kangaroo Information In Hindi कंगारू एक जंगली और स्तनधारी जानवर है। कंगारू चार पैर होने वाला जानवर है। कंगारू दो पैरों पर चल सकता है। कंगारू ऑस्ट्रेलिया का राष्ट्रीय पशु है। कंगारू जंगलों में अधिक पाए जाते हैं। कंगारू मेक्रोपोडीडा प्रजाति का जानवर है इनके पेट पर फैली होती है।

 

Kangaroo Information In Hindi

कंगारू की पूरी जानकारी kangaroo Information In Hindi

कंगारू समूह बनाकर रहते हैं और खतरे के समय दूसरों की रक्षा करते हैं। जब कंगारू को खतरा महसूस होता है तो वह अपनी पिछली टांगे जमीन पर मारते हैं जिससे दूसरे कंगारू को खतरे का संकेत मिल जाता है।

कंगारू के नवजात बच्चे को जॉय कहा जाता है। कंगारू के बच्चे का आकार बहुत ही छोटा होता है। कंगारू भी उंट की तरह कई दिनों तक पानी पिए बिना रह सकते हैं। कंगारू को जीवन का 7 वर्ष तक होता है। ऑस्ट्रेलिया में कंगारू मनुष्य के आबादी से भी ज्यादा है।

कंगारू की शारीरिक संरचना –

कंगारु चार पैर होने वाला प्राणी हैं । कांगारु दो पैरों पर चल सकता हैं । कंगारु के पेट पर थैली होती हैं । कंगारु के पिछले पैर लंबे होते हैं और आगे के पैर छोटे होते हैं । कंगारू के पैरों में अंगूठे नहीं होते। कंगारू की दूसरी और तीसरी उंगली पतली होती है और आपस में एक जल्दी से जुड़ी हुई होती है।

कंगारू की चौथी और पांचवी उंगली बड़ी होती है। कंगारू की पूंछ लंबी और भारी होती है। कंगारू की लंबाई 5 फिट हो सकती हैं । कंगारु का वजन 90 किलो तक हो सकता हैं । कंगारू के पंजे झिल्लीदार होते हैं इसकी वजह से कंगारु तैर सकते हैं ।

कंगारु का आहार –

कंगारु शाकाहारी प्राणी हैं । कंगारु घास , फूल , पत्ते खाते हैं । गायों की तरह कंगारु भी अपने भोजन को अच्छी तरह से चबाते हैं ताकी भोजन पूरी तरह से पच जाए । कंगारु कई दिनों तक पानी के बिना रह सकते हैं ।

कंगारु के प्रकार –

कंगारु के मुख्य चार प्रकार होते हैं रेड कंगारु , ॲटिलोपिन कंगारु , वेस्टर्न ग्रे कंगारु , इस्टर्न ग्रे कंगारु आदि । रेड कंगारु कंगारु जाती में सबसे बड़ी जाती हैं । यह ऑस्ट्रेलिया का सबसे बड़ा भूमीय प्राणी हैं । इस कंगारु का वजन 90 किलोग्राम तक हो सकता हैं और लंबाई 5 फीट तक हो सकती हैं ।

इस कंगारु का वैज्ञानिक नाम मैक्रोपस रुफस हैं । ईस्टर्न कंगारु ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तिसरे भाग में पाया जाता हैं । इस कंगारु को ग्रेट ग्रे कंगारु ऑर फाॅरेस्टर कंगारु के नाम से भी जाना जाता हैं । इसका वजन 66 किलोग्राम तक हो सकता हैं । इसकी लंबाई 6 फीट तक हो सकती हैं । यह कंगारु मिलनसार होते हैं ।

कांगारु के बारे में रोचक जानकारी –

  1. पूरे विश्व में ऑस्ट्रेलिया में सर्वाधिक कंगारू होते हैं। ऑस्ट्रेलिया में कंगारू सड़कों पर घूमते हुए देखने को मिलते हैं । जैसे भारत मे गलियों में कुत्ते घुमते हैं वैसे ही ऑस्ट्रेलिया में कंगारू घूमते हैं ।
  2. कंगारु जमीन पर उछलकर चलने वाला प्राणी हैं । कंगारु उछलकर चलता हैं क्योंकी कंगारू के आगे के दो पैर छोटे होते हैं। इसके कारण कंगारू जमीन पर संतुलन नहीं बना पाते। इसलिए वे अपने पिछले दो पैरों पर कुद – कुद कर आगे बढ़ते हैं।
  3. कंगारु जमीन पर चलने के साथ साथ पानी में भी तैर सकते हैं ।‌
  4. कंगारु अपने सिर को घुमाये बिना अपने कानों को किसी भी दिशा में घुमा सकते हैं । कंगारु को किसी भी दिशा में अपने कान को घुमाने के लिए सिर को घुमाने की जरूरत नहीं है ‌।
  5. आपको जानकर हैरानी होगी की कंगारु का पांचवा पैट भी होता हैं । कंगारु की पूंछ बहोत शक्तीशाली होती हैं । इसके कारण वह अपना सारा वजन पुंछ पर डाल सकते हैं । इस तरह कंगारु की पूंछ उसके पांचवें पैर की तरह काम करती हैं ‌
  6. कंगारु की ऑंखें बहोत तेज होती हैं लेकीन वे सिर्फ चलती , फिरती वस्तुओं को ही देख सकते हैं ।
  7. मादा कंगारु का गर्भकाल बहोत ही छोटा होता हैं । मादा साधारण 35 से 40 दिनों में बच्चे को जन्म देती हैं । इतने कम समय में बच्चा पुरा विकसित न होने के कारण वह अपने माॅं के पेट पर थैली में रहता हैं ।
  8. कंगारु हमेशा झुंड में रहना पसंद करते हैं और जब कंगारु को खतरा महसूस होता हैं तब वे अपनी पिछली टांगों को जमीन पर जोर से मारते हैं ताकी दुसरे कंगारु सावधान हो जाए ।
  9. कंगारु के बच्चे को जाॅय कहा जाता हैं ।‌ जन्म के समय वह सिर्फ एक इंच के होते हैं ।
  10. ज्यादा से ज्यादा कंगारु लाल और ग्रे रंग के होते हैं ।
  11. कंगारु हमेशा आगे की और चल सकता हैं ।‌ कभी भी कंगारु पीछे की और नहीं चल सकता ।
  12. कंगारु शांत स्वभाव‌ का प्राणी हैं लेकिन अपनी रक्षा के लिए वो अपनी पिछली टांगों से प्रहार भी करता हैं ।‌
  13. कंगारु का जीवनकाल जंगल में 8 साल तक हो सकता हैं । लेकिन कंगारु चिड़ियाघर में 20 साल के आसपास जिवीत रह सकते हैं
  14. कंगारु अपने उंचाई के तीन गुना ज्यादा उंचाई तक कूद सकता हैं ।
  15. सबसे छोटे कंगारु का नाम Musky Rat Kangaroo हैं । उनकी लंबाई 6 से 8 इंच तक होती हैं ।‌

यह भी जरुर पढ़े :-

Leave a Comment