Google का मलिक कौन हैं और गूगल किस देश की कंपनी हैं?

Google का मलिक कौन हैं : आज के दुनिया में ऐसा कोई नहीं हैं जो Google को ना जानता हो छोटा हो, बड़ा हो या चाहे बुढा हर किसी को google के बारे में पता हैं। बिना Google के शायद ही लोगों का काम चलता हो क्योंकी कोई भी प्रश्न हो हम Google का उपयोग करते हैं चाहें हमे न्यूज पढ़नी हो , काम हो या फिर पढ़ाई सभी कामों में हम Google की सहायता लेते हैं और यह काफ़ी सरलता से हमतक जानकारी प्रदान करता हैं। बहुत कम लोग हैं जिनको Google का मलिक कौन है? यह पता है और यह किस देश की कंपनी हैं? गूगल यह दुनियां में इंटरनेट बढ़ती पर 75% का योगदान है।

Google का मलिक कौन हैं

Google का मलिक कौन हैं और गूगल किस देश की कंपनी हैं?

20 साल पहले 1998 में गूगल यह एक प्राइवेट कंपनी के तौर पर शुरू की गई थी। गूगल का इंटरनेट में 75% का योगदान हैं और इन 20 सालों में Google ने इंटरनेट की इस दुनिया में राज किया और आगे भी रहेगा क्योंकी गूगल की सेवाएं ही इतनी आसान हैं की कोई भी व्यक्ती आसानी से इसका इस्तेमाल कर सकता है। इस कंपनी की स्थापना करने से पहले इसके दोनों फाउंडर लैरी पेज और सर्गे ब्रिन 1995 में यह दोनो स्टैनफर्ड यूनिवर्सिटी में मिले थे। यह दोनों अमेरिका के सबसे अमीर व्यक्तियों की list में आते हैं और Google यह दुनियां की तीसरी सबसे बडी कंपनी है। वर्तमान में Google के CEO Sunder Pichai हैं जैसा की आप में से ज्यादातर लोग सुनते हैं की सुंदर पिचाई गूगल का मलिक हैं यह गलत है सुंदर पिचाई गूगल के मलिक नहीं बल्की गूगल के सीईओ हैं।

वर्ष 2004 में लैरी पेज और सर्गे ब्रेन ने गूगल को स्थापित किया। इसका मतलब यह Google के मलिक नहीं बल्की शेअर होल्डर हो गए है और गूगल में शेयर होल्डिंग को समझने के लिए यह जानना भी बेहद जरूरी है कि वर्ष 2015 में गूगल ने अपनी एक दूसरी कंपनी याने पैरेंट कंपनी, Alphabet Inc, बनाई और अपनें सारे काम के प्रोजेक्ट्स उसके अंडर ला दिए। Google कंपनी के मालिकी और उनसे जुडे सभी काम अल्फाबेट संरचना से किए जाते है।

गूगल क्या है? What is Google

गूगल यह एक सर्च इंजन है जिसे 1996 में सर्गेई ब्रिन और लैरी पेज द्वारा इंटरनेट पर फाइलों को खोजने के लिए स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में एक शोध परियोजना के रूप में शुरू किया था। लैरी और सर्गेई ने बाद में बदलने के लिए आवश्यक अपने खोज इंजन का नाम तय किया और Google को चुना, जो गूगोल शब्द से प्रेरित है। Google कंपनी का मुख्यालय माउंटेन व्यू, कैलिफ़ोर्निया में है।

गूगल की शुरवात कैसे हुई?

डोमेन google.com 15 सितंबर 1997 को पंजीकृत किया गया था, और कंपनी 4 सितंबर, 1998 को निगमित की गई थी। नीचे दी गई तस्वीर द इंटरनेट आर्काइव से साइट का एक कैप्चर है जो 1998 में Google जैसा दिखता था।

Google कैसे काम करता हैं?

जो Google को अपनी प्रतिस्पर्धा से बाहर खड़ा करने में मदद करता है, उसे आगे बढ़ने में मदद करता है, और नंबर एक खोज इंजन बनना इसकी पेजरैंक तकनीक है जो खोज परिणामों को क्रमबद्ध करती है। इंटरनेट पर सर्वश्रेष्ठ खोज इंजनों में से एक होने के नाते, Google अधिक प्रासंगिक खोज परिणाम प्रदान करने के लिए Google मानचित्र और Google लोकल जैसी अपनी कई अन्य सेवाओं को भी शामिल करता है।

Google का मलिक कौन हैं?

गूगल के मलिक लैरी पेज (larry page) और (sergey brin) सर्गेई ब्रिन है। Google की स्थापना 4 सितंबर 1998 को लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन द्वारा की गई थी, जब वे पीएच.डी. कैलिफोर्निया में स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के छात्र। साथ में वे इसके सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध शेयरों के लगभग 14% के मालिक हैं और सुपर-वोटिंग स्टॉक के माध्यम से 56% स्टॉकहोल्डर वोटिंग पावर को नियंत्रित करते हैं। कंपनी 2004 में एक प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश (IPO) के माध्यम से सार्वजनिक हुई। 2015 में, Google को Alphabet Inc की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी के रूप में पुनर्गठित किया गया था। Google Alphabet की सबसे बड़ी सहायक कंपनी है और Alphabet की इंटरनेट संपत्तियों और हितों के लिए एक होल्डिंग कंपनी है। सुंदर पिचाई को 24 अक्टूबर 2015 को लैरी पेज की जगह गूगल का सीईओ नियुक्त किया गया, जो अल्फाबेट के सीईओ बने। 3 दिसंबर 2019 को पिचाई अल्फाबेट के सीईओ भी बने।

लैरी पेज

Google के सबसे ज्यादा शेयर की बात की जाए तो लैरी पेज के पास इस वक्त Google के सबसे ज्यादा शेयर हैं। Larry Page Alphabet के CEO हैं और उनके पास Alphabet के 20 मिलियन क्लास C शेयर्स और 19.9 मिलियन क्लास A शेयर्स हैं। उनकी ज्यादातर जिम्मेदारियां 2015 में सुंदर पिचाई के CEO बनने के बाद उन पर ट्रांसफर हो गई हैं। अक्टूबर 2018 तक 50.6 बिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ पेज अमेरिका के सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक थे।

सर्गे ब्रिन

Alphabet के प्रेजिडेंट सर्गे ब्रिन के पास 19.3 मिलियन क्लास C के शेयर और 18,400 क्लास A शेयर भी हैं। और उनकी कुल संपत्ति 49.9 बिलियन डॉलर है।

सुंदर पिचाई और जॉन डियॉर

गूगल CEO सुंदर पिचाई के पास 857 A क्लास शेयर, 8,844 क्लास A Google शेयर, 117,479 क्लास C के कैपिटल शेयर और 85,415 क्लास C के गूगल शेयर हैं। उधर, जॉन के पास 3,485 क्लास A के शेयर और 5,027 क्लास C कैपिटल शेयर हैं। सुंदर पिचाई के पास 909,459 क्लास C कैपिटल शेयर और 118,653 क्लास A शेयर ट्रस्ट के जरिए भी उनके पास मौजूद हैं।

एरिक श्मिट

एरिक श्मिट 2011 में Alphabet कंपनी के एग्जिक्यूटिव चेयरमैन बने और यह 10 साल तक गूगल के CEO रहे हैं। वर्ष 2017 में उन्होंने वह पद छोड़ दिया। श्मिट के पास डायरेक्टली 38,166 क्लास A शेयर, 1,287,765 क्लास C कैपिटल शेयर, 10,983 क्लास C गूगल शेयर और 10,983 क्लास A गूगल शेयर हैं। उनके पास फैमिली ट्रस्ट के जरिए 2.4 मिलियन क्लास C कैपिटल शेयर, 42,806 क्लास C कैपिटल शेयर और 74,361 क्लास A शेयर हैं। एरिक श्मिट की दौलत 2,380 crores USD है।

Google किस देश की कंपनी है?

Google यह अमेरिका देश की कंपनी है जो इंटरनेट से संबंधित सेवाओं और उत्पादों में विशेषज्ञता रखती है, जिसमें ऑनलाइन विज्ञापन प्रौद्योगिकियां, एक खोज इंजन, क्लाउड कंप्यूटिंग, सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर शामिल हैं। Google कंपनी का मुख्यालय माउंटेन व्यू, कैलिफ़ोर्निया में है

Google के Ceo कौन है?

गूगल कंपनी के वर्तमान सीईओ सुंदर पिचाई है। जो की एक भारतीय है। हाल ही में इन्हे पद्म भूषण के अवार्ड से संमानित किया गया है।

यह लेख अवश्य पढ़े –

Leave a Comment